0
loading...
😂😂भिया
आठ दिन से रोज बुखार आरिया था ,
रोज गोलिया खारिया था,पर इसकी बारां बजाउ,कोई फरक ई नि मालूम पड़ रिया था।
परेसान हो गिया भिया।
पल्लेई नि पड़ रि थि कि हो क्या रिया है।
फिर किस्मत की बात देखो भिया ।कल पाटनीपुरा पे जाना हुआ।
चोराये पे बैठे बैठे मगज मे एक भेथरिंग एडिया आया।
किराना दूकान से जीरावन का पैकेट लिया
और घर पे ला के
सभी दवाइयो पे " जीरावन "लगा के एक और डोज़ लिया।
सई बोल रिया हूँ भिया
आज सूबे सेइ टन टनाट घूम रिया हूँ। 🤣🤣🤣🤣
जय हो इंदौरीलालों की ...... 😃😃😃😃
...
loading...

Post a Comment

 
Top