0
loading...
To, 
The माड़साब, 
सरकारी स्कूल
मारवाड़ ।

सर,
     बात या हे के स्कूल में म्हारो मन कोनी लागे, और रात रे नींद कोनी आवे ।😏

   क्योंकि स्कुल में छोरियां कम हो री है । और म्हारी किलास में तो सारी सुग्ली है , देखवा को भी मन नी करे । 🙈

मेडम भी कोई पटाखा कोनी । और कई नी तो कम से कम 4 5 बढ़िया मेडम ही रख लो, तो थारी बहुत किरपा होवेगी ।💃💃

घनी खम्मा ।🙏

                   थारो घणो लाडलो छोरो
          नाम लिखूँ , एसो बावलों कोनी
                                💃💃💃💃
😝😝😝😝😝
...
loading...

Post a Comment

 
Top