loading...
आरबीआई के इस फैसले के जरिए अब उन लोगों पर शिकंजा कस गया है जो 30 दिसंबर तक छोटे-छोटे अमाउंट में रकम जमा करके ब्लैकमनी को व्हाइट करना चाहते थे।

नई दिल्ली. बंद हुए पुराने नोटों में 5000 रुपए से ज्यादा का अमा
उंट 30 दिसंबर तक एक खाते में सिर्फ एक बार ही जमा कर सकते हैं। जिसके खाते में पैसा जमा हो रहा है, उसे बैंक को यह भी बताना होगा कि यह रकम अब तक जमा क्यों नहीं की गई थी?

दो अफसरों के सामने देना होगा जवाब...

  • फाइनेंस मिनिस्‍ट्री के एलान के बाद रिजर्व बैंक की ओर से सोमवार को इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया गया।
  • इसके मुताबिक, जिसके खाते में 5000 रुपए से ज्‍यादा रकम जमा हो रही है, उसे बैंक को यह भी बताना होगा कि यह रकम अब तक जमा क्यों नहीं की गई थी?
  • यह जवाब उसे बैंक के कम से कम दो अफसरों के सामने देना होगा। बैंक उसके जवाब से संतुष्ट होगा, तभी रकम जमा की जाएगी।
  • आरबीआई के नोटिफिकेशन के अनुसार, बैंक अफसरों और अकाउंटहोल्‍डर की पूछताछ को रिकॉर्ड में रखा जाएगा जिसे ऑडिट ट्रायल के दौरान पेश किया जा सकेगा।
  • आरबीआई ने यह लिमिट तय नहीं की है कि 5000 से ज्यादा कितनी रकम जमा की जा सकती है।
  • आरबीआई के इस फैसले के बाद अब उन लोगों पर शिकंजा कस गया है जो 30 दिसंबर तक छोटे-छोटे अमाउंट में रकम जमा करके ब्लैकमनी को व्हाइट करना चाहते थे।

कम जमा पर शर्त लागू नहीं होगी

  • नोटिफिकेशन में 5000 से कम के जमा पर कोई शर्त नहीं रखी गई है।
  • साथ ही यह भी साफ है कि 5000 से ज्यादा की रकम आप एक अकाउंट में सिर्फ एक बार में ही जमा कर सकते हैं।

ज्यादा रकम दो अकाउंट में जमा करें

  • अगर आपको 5000 रुपए से ज्यादा की रकम जमा करनी है तो आप दो अलग-अलग अकाउंट का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • बता दें कि फाइनेंस मिनिस्ट्री ने साफ किया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत रकम जमा करवाने की कोई लिमिट नहीं होगी।

क्‍यों लिया फैसला?

  • यह पाबंदी प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना 2016 के तहत डिपॉजिट को प्रोत्‍साहित करने के लिए लगाई गई है।
  • सरकार ने इस स्‍कीम के तहत 50% पेनल्‍टी देकर ब्‍लैकमनी को व्‍हाइट करने का एक और मौका दिया है। इस स्‍कीम के तहत 31 मार्च तक ब्‍लैकमनी जमा कराई जा सकेगी।
  • बैंक से अभी भी बदले जा सकते हैं नोट
  • बता दें कि 2000 तक के 500 के पुराने नोट अभी भी बैंक से बदले जा सकते हैं।
  • हालांकि, 1000 के पुराने नोट बदलने पर बैंक पहले ही रोक लगा चुका है। इन्हें अब या तो बैंक में जमा किया जा सकता है या आरबीआई से बदला जा सकता है।
  • पुराने नोटों के बाजार में इस्तेमाल पर पूरी तरह पाबंदी 15 दिसंबर के बाद से ही लग चुकी है।

15 दिसंबर से पुराने नोटों का इस्तेमाल पूरी तरह बंद

  • सरकार ने 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया था। इसके बाद 500-1000 के पुराने नोट चलन से बाहर हो गए थे।
  • कुछ तय जगहों तय वक्त तक ही इनके इस्तेमाल की छूट दी गई थी।
  • 15 दिसंबर रात 12 बजे के बाद से सरकार ने पुराने नोटों के इस्तेमाल पर पूरी तरह रोक लगा दी है।
  • 30 दिसंबर तक अब इन्हें सिर्फ बैंकों में जमा किया जा सकता है।
...
loading...
 
Top